परीक्षा परिचर्चा दौरान मोदी ने छात्रों से कहा, ‘भारत जब आजादी के सौ साल पूरे करेगा ….

दिल्ली से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक के बच्चों ने पीएम से सवाल पूछा. इस दौरान अंत में जब पीएम बच्चों से अलविदा ले रहे थे तो वो भावुक हुए और बच्चों से मन की बात कही. पीएम ने कहा कि जब आजादी के 100 साल पूरे होंगे तो आप ही देश की अगुवाई कर रहे होंगे.

0
24

छात्रों के साथ पीएम की परीक्षा पे चर्चापरीक्षा से जुड़े सवालों का दिया जवाबदेश के कई हिस्सों से छात्रों ने पूछा सवाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने छात्रों के सवालों को जवाब दिया. दिल्ली से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक के बच्चों ने पीएम से सवाल पूछा. इस दौरान अंत में जब पीएम बच्चों से अलविदा ले रहे थे तो वो भावुक हुए और बच्चों से मन की बात कही. पीएम ने कहा कि जब आजादी के 100 साल पूरे होंगे तो आप ही देश की अगुवाई कर रहे होंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां छात्रों से कहा, ‘भारत जब आजादी के सौ साल पूरे करेगा, यानी आज से 30-40 साल बाद जब आप सफलता की ऊंचाईयों को चूम रहे होंगे और मैं जीवित रहा. मैं आपसे कभी मिला तो जरूर कहूंगा कि जो आज देश की अगुवाई कर रहे हैं उनसे कभी मैंने 2020 भी बात की थी. मैंने भी उनके दर्शन किए थे.’गौरतलब है कि पिछले तीन साल से पीएम मोदी से छात्रों से इस प्रकार संवाद कर रहे हैं. सोमवार को हुए इस कार्यक्रम में छात्रों ने पीएम मोदी से परीक्षा को लेकर सवाल किया, टेक्नोलॉजी को लेकर बातें की.पीएम मोदी ने इस दौरान बताया कि छात्रों को परीक्षा की टेंशन नहीं लेनी चाहिए, क्योंकि सिर्फ पेपर ही कुछ नहीं होता है. परीक्षा में मार्क्स से अलग भी एक जीवन है जो आपको जीना है.अभिभावकों को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि जब बच्चा छोटा होता था तब मां-बाप उसको उत्साहित करते थे, लेकिन अब भी ऐसा ही होना चाहिए. किसी भी बच्चे पर प्रेशर नहीं बनाना चाहिए, जिनके साथ बच्चा कम्फर्ट होता है उसे बात करना जरूरी है. पीएम ने कहा कि भारत का हर बच्चा सुपर पॉलिटिशयन होता है, उसे पता है कि घर में किससे क्या काम करवाना है.

क्रांतिकारी वेब पोर्टल के रिपोर्टर बने
7000170083

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें