विशाल 19 वां रेलवे जम्बोरेट कार्यक्रम 6 से, 3 हजार से ज्यादा स्काउट्स एण्ड गाईड्स के बच्चे होंगे शामिल

भारत स्काउट्स एण्ड गाईड्स का 19 वां अखिल भारतीय रेलवे जम्बोरेट का आयोजन दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की मेजवानी में

0
13

बिलासपुरः दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में भारत स्काउट्स एण्ड गाईड्स का 19 वा अखिल भारतीय रेलवे जम्बोरेट का आयोजन सेक्रेसा ग्राउंड बिलासपुर में 6 से 11 जनवरी, तक किया जा रहा है।

इस मेगा जम्बोरेट में भारतीय रेलवे के 16 जोनल मुख्यालयों से लगभग 3 हजार से अधिक स्काउट्स एण्ड गाईड्स के बच्चे भाग ले रहे है। इस आयोजन में मुख्य अतिथि गौतम बनर्जी, महाप्रबंधक दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे एवं विशिष्ट अतिथि श्रीमती इंदिरा बनर्जी, अध्यक्षा, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे महिला कल्याणकारी संगठन (सेक्रो) मुख्यालय की उपस्थित में आयोजित होगी। स्काउट्स एवं गाइड्स एक स्वयंसेवी, गैर-राजनीतिक, शैक्षिक आंदोलन है यह आंदोलन अपने लक्ष्यों, सिद्धांतों एवं विधियों के आधार पर कार्य करता है, स्काउट्स एवं गाइडस आंदोलन वर्ष 1908 में ब्रिटेन में सर बेडेन पॉवेल द्वारा आरम्भ किया गया। भारत में स्काउटिंग की शुरुआत वर्ष 1909 में हुई। वर्ष 1911 में भारत में गाइडिंग की शुरुआत हुई तथा 1928 में स्थापित गर्ल गाइड्स तथा गर्ल स्काउट्स के विश्व संगठन में भारत ने एक संस्थापक सदस्य की भूमिका निभाई। भारतवासियों के लिए स्काउटिंग की शुरूआत न्यायाधीश विवियन बोस, पंडित मदन मोहन मालवीय, पंडित हृदयनाथ कुंजरू, गिरिजा शंकर बाजपेई, एनी बेसेंट तथा जॉर्ज अरुंडाले के प्रयासों से वर्ष 1913 में हुई। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की मेजवानी में आयोजित उन्नीसवां अखिल भारतीय रेलवे जम्बोरेट शिविर के दौरान प्रतिभागियों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं, स्काउटिंग कौशल गतिविधियों और सामाजिक जागरूकता कार्यक्रम के साथ-साथ आपदा प्रबंधन कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। ताकि बच्चों में न सिर्फ देश, समाज के प्रति दायित्व बोध जागे वरन किसी भी प्रकार के आपदा से निपटने का स्कील्ड विकसित हो सके, साथ ही साथ एक साथ रहते हुए सह अस्तित्व की महत्व के पहचान सके।

क्रांतिकारी संकेत वेब पोर्टल के रिपोर्टर बने
7000170083

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें